डाटा किसे कहते हैं? | Data Kise Kahate Hain

डाटा किसे कहते हैं Data Kise Kahate Hain: वर्तमान समय में यदि देखा जाए तो भारत में बहुत सारे ऐसे व्यक्ति हैं जिनको यह नहीं पता है कि डाटा किसे कहते हैं | यदि आपको भी यह नहीं पता है कि डाटा किसे कहते हैं। तो आपको पता होना चाहिए|

जब आप इस लेख को सही प्रकार से पढ़ेंगे तो आपको पता चल जाएगा की दाता किसे कहते हैं डाटा कितने प्रकार के होते हैं और डाटा का उपयोग कहां किया जाता है | इस प्रकार की जानकारी इस लेख में विस्तार से की गई है|

अधिकतर लोगों को यह भी नहीं पता है कि डेटा और डाटा एक ही चीज होते हैं | हालांकि बहुत सारे व्यक्ति इन दोनों में अंतर बताते हैं लेकिन ऐसा बिल्कुल नहीं है यह दोनों एक ही चीज है तो चलिए जानते हैं कि डाटा क्या है|

डाटा किसे कहते हैं? | Data Kise Kahate Hain

कंप्यूटर के द्वारा प्रोसेस करने योग्य उपलब्ध सभी प्रकार की सामग्री को डाटा कहा जाता है|

सभी प्रकार के स्वीकृत तथ्य, निदृष्ट सिद्धांत, व्यक्ति, वस्तु, वस्तु, स्थानों इत्यादि के नाम से जुड़े हुए तथ्य, विवरण व आंकड़ों को भी डाटा कहा जाता है|

WhatsApp Group Join Now
Telegram Group Join Now
Instagram Group Join Now
डाटा किसे कहते हैं Data Kise Kahate Hain
डाटा किसे कहते हैं Data Kise Kahate Hain

लेकिन बिना संसाधित किया डाटा हमारे लिए अनुउपयोगी होता है | लेकिन वही कंप्यूटर का कार्य इन असंसाधित डाटा को उसके सभी उपयोगकर्ताओं के लिए उपयोगी जानकारी के रूप में उपलब्ध कराना होता है|

डाटा कंप्यूटर के लिए यह कच्चा डेटा मूलपाठ, अक्षरों, शब्दों, ऑडियो, वीडियो, फ़ोटो सहित अन्य रूपों में उपलब्ध होता है|

डाटा क्या हैं? | What is Data in Hindi

यदि देखा जाए तो डाटा का उपयोग प्राचीन काल से ही किया जा रहा है | प्राचीन काल में डाटा को लिखकर ऋषि मुनियों के द्वारा रखा जाता था | ऋषि मुनियों के द्वारा लिखा हुआ डाटा आज भी मौजूद है जिन्हें हम रामायण, भागवत, वेद इत्यादि कह सकते हैं|

यदि देखा जाए तो प्राचीन काल से ही महाभारत तथा रामायण लोगों के द्वारा पढ़ी और बोली जा रही है | लेकिन इन किताबों को प्राचीन काल से ही सवाल कर रखा गया है | इस प्रकार की घटना को ही हम डाटा कहते हैं|

लेकिन वर्तमान काल को देखा जाए तो यह टेक्नोलॉजी का योग है आज के समय में बहुत ही काम ऐसे व्यक्ति हैं जो अपने किसी कार्य को किताबों में लिखते हैं | लेकिन अधिकतर लोग अपना किसी भी प्रकार का कोई भी डाटा मोबाइल फोन कंप्यूटर इत्यादि में फाइल के रूप में सवाल कर रखते हैं|

जब लोग डाटा नाम सुनते हैं तो उनके दिमाग में सबसे पहले कंप्यूटर, मोबाइल, लैपटॉप इत्यादि आ जाता है | अधिकतर लोगों को यही लगता है कि डेटा का संबंध केवल कंप्यूटर, लैपटॉप तथा मोबाइल से होता है लेकिन ऐसा बिल्कुल भी नहीं है|

कंप्यूटर, लैपटॉप तथा मोबाइल डेटा को प्रोसेस करने के उपकरण होते हैं | किसी भी प्रकार की सूचना को डेटा नाम दिया जा सकता है | चाहे वह सूचना डिजिटल हो या फिर बहुत ही रूप में|

प्राचीन समय में डेटा को किताबों में लिखकर रखा जाता था लेकिन आज के इस समय में डेटा का तात्पर्य एसडी कार्ड, मेमोरी कार्ड, पेन ड्राइव, मोबाइल, कंप्यूटर, हार्ड डिस्क, लैपटॉप इत्यादि से होता है|

आज के समय में डेटा को सेव करने के लिए एसडी कार्ड, मेमोरी कार्ड, पेन ड्राइव, मोबाइल, कंप्यूटर, हार्ड डिस्क, लैपटॉप का सहारा लिया जाता है | लेकिन प्राचीन काल में ऐसा नहीं होता था|

डाटा कितने प्रकार का होता है?

डाटा निम्नलिखित प्रकार का होता है जैसे की-

  1. टेक्स्ट डेटा
  2. नंबर डेटा
  3. अल्फान्यूमेरिक डाटा
  4. इमेज डेटा
  5. औडियो डेटा
  6. विडियो डेटा
  7. ग्राफिकल डेटा

डेटा का उपयोग कैसे करें?

यदि देखा जाए तो डाटा का उपयोग कई प्रकार से कई जगह पर किया जाता है | यदि आज के समय में देखा जाए तो अधिकतर लोग अपना डाटा मोबाइल फोन में रखना पसंद करते हैं | वही जिन व्यक्तियों का डाटा अधिक होता है वह अपने लैपटॉप या कंप्यूटर में संभाल कर रखते हैं|

अपने मोबाइल के डाटा को संभाल कर रखने के लिए कुछ व्यक्ति अपने लैपटॉप में कॉपी करके रखते हैं | क्योंकि मोबाइल की डाटा को हर व्यक्ति आसानी के साथ देख सकता है। जो कि यह आपके लिए सही नहीं है|

इसी प्रकार से कंप्यूटर में डाटा स्टोर करके कई कामों के लिए लिया जाता है | कुछ लोग अपने स्कूल, कॉलेज, कार्यालय तथा हॉस्पिटल का डाटा कंप्यूटर तथा लैपटॉप में रखना पसंद करते हैं|

आपने होस्टिंग का नाम जरुर सुना होगा क्योंकि आज के समय में बहुत सारी ऐसी वेबसाइट है जो अपने डेटा को होस्टिंग पर सेव करके रखती हैं | ताकि किसी भी प्रकार की परेशानी में इस डाटा को दोबारा उपयोग में लाया जा सके|

डाटा को किस प्रकार से सुरक्षित रखा जाता है?

वर्तमान समय में यदि देखा जाए तो जैसे-जैसे टेक्नोलॉजी आ रही है उसी प्रकार से अधिकतर व्यक्ति अपने डेटा को सुरक्षित रखने का तारिक निकल लेते हैं | कुछ व्यक्ति अपने डेटा को कंप्यूटर तथा लैपटॉप में सेव करके रखते हैं|

लेकिन प्राचीन काल में डाटा को किताब में लिखकर सुरक्षित रखा जाता था जैसे आपने रामायण, भागवत इत्यादि को जरूर पड़ा होगा यह डेटा का एक रूप है|

यदि देखा जाए तो देश और दुनिया में सबसे ज्यादा डाटा हैकर चोरी करने का कार्य करते हैं | इन हैकर से अपनी डाटा को सुरक्षित रखने के लिए अधिकतर व्यक्ति अपने कंप्यूटर तथा लैपटॉप का इस्तेमाल करते हैं|

FAQs | डाटा किसे कहते हैं?

Read More: 31 to 40 Numbers in Hindi and English | ३१ से ४0 की गिनती हिंदी में

डाटा किसे कहते हैं और कितने प्रकार के होते हैं?

कंप्यूटर, लैपटॉप तथा मोबाइल के द्वारा प्रोसेस करने योग्य उपलब्ध सभी प्रकार की सामग्री को डाटा कहा जाता है | डाटा निम्नलिखित प्रकार का होता है|

डाटा कितने प्रकार का होता है?

डाटा निम्नलिखित प्रकार का होता है जैसे की –

  • संख्यात्मक डाटा (Numeric Data)
  • अक्षर डाटा (Alphabetic Data)
  • अक्षर संख्यात्मक डाटा (Alphanumeric Data)
  • ध्वनि डाटा (Sound Data)
  • रेखाचित्र डाटा (Graphics Data)
  • चलचित्र डाटा (Video Data)

डेटा को इंग्लिश में क्या कहा जाता है?

डेटा को इंग्लिश में (Data) कहा जाता हैं|

डेटा क्या है और इसका महत्व क्या है?

सभी प्रकार संख्यात्मक डाटा, अक्षर डाटा, अक्षर संख्यात्मक डाटा, ध्वनि डाटा, रेखाचित्र डाटा , चलचित्र डाटा इत्यादि नाम उनसे जुड़े तथ्य, विवरण व आंकड़ों को डेटा कहा जा सकता है|

2 thoughts on “डाटा किसे कहते हैं? | Data Kise Kahate Hain”

Leave a Comment