Byaj Par Paise Dene Ke Niyam | ब्याज पर पैसे कैसे दें?

Byaj Par Paise Dene Ke Niyam: देश दुनिया में जब लोग अपना खुद का एक बड़ा स्टार्ट करने की सोचते हैं, तो उनको काफी सारी परेशानियों का सामना करना पड़ता है।

आपने देखा होगा कि भारत देश में आज के समय में प्रतिदिन नए-नए स्टार्टअप खुल रहे हैं, लेकिन एक startup खोलने के लिए अधिक पैसों की जरूरत होती है, लेकिन कुछ व्यक्तियों के पास पैसा ना होने के कारण वह स्टार्टअप खोल नहीं पाते हैं।

जब हम अपना खुद का बिजनेस सोचते हैं, जिससे कि एक दिन कमाई का अच्छा जरिया हो सके क्योंकि जब हम एक सही बिजनेस स्टार्ट कर लेते हैं।

तब हमको बहुत ही काम करने पर एक अच्छी खासी रकम मिल जाती है, लेकिन जब बात आती है बिजनेस स्टार्ट करने की तो बिजनेस स्टार्ट करने के लिए दिमाग और पैसे दोनों की जरूरत पड़ती है।

WhatsApp Group Join Now
Telegram Group Join Now
Instagram Group Join Now
Byaj Par Paise Dene Ke Niyam
Byaj Par Paise Dene Ke Niyam

यदि आपके पास पहले से ही इतने रुपए हैं जिससे आप एक नया बिजनेस स्टार्ट कर सकते है, तो ऐसे दिमाग देने का कार्य हम करेंगे।

लेकिन आपके पास इतने पैसे नहीं है जिससे कि आप एक सही बिजनेस ओपन कर सकें तो इस लेख में हम आपको यह बताने वाले हैं कि किस प्रकार से ब्याज पर पैसे देने के नियम होते हैं।

यदि आपके पास इतने पैसे हैं, जो कि आप कुछ लोगों को जैसे ब्याज पर देना चाहते हैं लेकिन आपको यह नहीं पता है कि ब्याज पर पैसे देने के नियम क्या है।

क्योंकि भारत देश में ब्याज पर पैसे देने के कुछ नियम है जिनका आपको सही प्रकार से पालन करना होगा तभी आप ब्याज पर किसी अन्य व्यक्ति को पैसे दे सकते हैं।


ब्याज पर पैसे देने के नियम क्या है?

भारत देश में बहुत बड़ी आबादी ऐसी है जिनको ब्याज पर पैसे देने के नियम के बारे में कोई भी जानकारी नहीं है वह ले लेना जानकारी दें ब्याज पर कुछ लोगों को पैसे आसानी के साथ दे देते हैं।

लेकिन बाद में वह लोग परेशान होने लगते हैं, इसीलिए यदि आप किसी व्यक्ति को नया बिजनेस स्टार्ट करने के लिए कुछ पैसे ब्याज पर दे रहे हैं तो आपको ब्याज पर पैसे देने के नियमों के बारे में पता होना चाहिए।

सबसे पहले आपको हम इसलिए हमें यह जानकारी देते हैं कि ब्याज पर पैसे देने के बिजनेस को भारत में क्या कहा जाता है, जैसा कि अधिकतर लोग जानते हैं।

ब्याज पर पैसे देना का काम बही लोग करते हैं जो या तो सरकारी नौकरी में लगे हुए होते हैं या फिर कोई बिजनेस कर रहे होते हैं क्योंकि एक आम आदमी के पास इतना पैसा नहीं होता है जो कि वह ब्याज पर दे सके।

लेकिन जब बिजनेसमैन ब्याज पर पैसा देने का काम करते हैं तो उनको भारत के सभी नियमों का पालन करना होता है तब जाकर वह बिजनेसमैन ब्याज पर पैसे देते हैं।

जब पैसे किसी व्यक्ति से अपनी लेते हैं तो वह ब्याज सहित पूरी रकम को लेते हैं, इस प्रकार से अधिकतर बिजनेसमैन अपने पैसे ब्याज पर देते हैं, जब आपके पैसों पर जो ब्याज मिलती है उससे बिजनेसमैन कमाई करते हैं।

लेकिन अधिकतर बिजनेसमैन की यह खास बात होती है कि वह आपको पैसे देने भी घर पर आएगा और आपसे पैसे लेने भी आपके घर आएगा।

लेकिन जब किसी बिजनेसमैन से पैसे लेते हैं तब आपको कौन पैसे की बहुत ही कम ब्याज देनी होती है।

लेकिन किसी व्यक्ति से ब्याज पर पैसे लेने से पहले आपको कुछ भारती नियमों की पालना करनी होगी।


ब्याज पर पैसे देने के फायदे क्या क्या होते हैं?

अधिकतर भारतीयों को यह पता है कि ब्याज पर पैसे दे देते हैं तो कितना फायदा होता है बहुत सारे ऐसे व्यक्ति होती है।

जो कि ब्याज पर पैसे देने को ही अपना एक धंधा बना लेते हैं तो चलिए जानते हैं कि ज्यादा पैसे देने से क्या क्या फायदे होते हैं।

  • ब्याज पर पैसे देने का यह एक ऐसा बिजनेस है जिससे आप बहुत सारे लोगों मदद करते हैं अधिकतर लोगों को बैंक जा इसी अन्य थर्ड पार्टी के पास नहीं जाना पड़ता है, यह एक मानवता भी कैलाई जाती है।
  • आप ब्याज पर पैसा देने का काम लगभग ₹500000 से भी कर सकते हैं यदि आपके पास ₹500000 से भी कमरों पर हैं तब भी आप ब्याज पर काम कर सकते हैं।
  • अधिकतर लोग इस बिजनेस को पार्ट टाइम जॉब कहते हैं, क्योंकि इसके साथ अधिकतर लोग बहुत सारे काम करते हैं।
  • ब्याज पर पैसे देना एक बिजनेस कहलाया जाता है यदि आप इस बिजनेस को करते हैं तो आपका पैसा कोई भी व्यक्ति लेकर नहीं भागता है।
  • ब्याज पर पैसे देने के लिए आपको किसी भी दफ्तर या लोगों को खोजने की जरूरत नहीं होती है जिस व्यक्ति को ब्याज पर पैसे चाहिए होते हैं वह आपके पास खुद आ जाता है।
  • इस बिजनेस को आप कभी किसी भी मौसम में कर सकते हैं क्योंकि यह एक सदाबहार बिजनेस है क्योंकि सदा लोगों को पैसे की जरूरत पढ़ती रहती है।

ब्याज पर पैसे देने का बिजनेस किस प्रकार से स्टार्ट किया जाता है?

तो आप जानते हैं कि ब्याज पर पैसे देने का बिजनेस किस प्रकार से स्टार्ट किया जाता है, भारत देश में ब्याज पर पैसे देने पर बहुत सारे नियम होते हैं।

जिन नियमों को आपको मानना होगा तभी आप इस बिजनेस को कर पाएंगे, इस बिजनेस को स्टार्ट करने के लिए बहुत सारे तरीके हैं तो चलिए जानते हैं इस बिजनेस को स्टार्ट करने के लिए क्या क्या करना होता है।


सबसे पहले आपको अपने पैसों का हिसाब किताब रखना होगा?

जैसा कि देश दुनिया में हर व्यक्ति जानता है कि प्याज का बिजनेस तब चलता है जब आपके पास पैसे होते हैं।

यही कारण है कि इस बिजनेस को स्टार्ट करने से पहले आपको अपने पैसों का सही प्रकार से उपयोग करना होगा।

आपके पास जितने भी पैसे हैं उनका सभी हिसाब किताब होना चाहिए और साथ में आप यह कोशिश करें कि आपके परिवार में जिन लोगों के पास कैसे हैं उन सब से आप कुछ महीनों के लिए पैसे मांग सकते हैं।

जब आपके पास अधिक पैसे हो जाते हैं और कोई व्यक्ति आपसे पैसे मांगने आता है तो आप उस व्यक्ति को ब्याज के तौर पर पैसे दे सकते हैं।

लेकिन आपको ऐसे व्यक्ति को पैसे देने हैं जो देने की क्षमता रखता हो यदि आप किसी ऐसे व्यक्ति को पैसे दे देते हैं।

जो बाद में आपको लौटा भी नहीं सकता तो आपको पैसे डूब सकते हैं या मारे जा सकते हैं इसलिए आपको ऐसे व्यक्तियों से बचना है।


आपको जगह का चुनाव करना होगा?

जब आप एक ब्याज पर पैसे देने का बिजनेस स्टार्ट करते हैं तो आपको एक ऐसी जगह का चुनाव करना होगा जहां पर हर व्यक्ति आपके पास आसानी से आ सके।

लेकिन आपको यह ध्यान रखना है कि यदि आपके पास सही मात्रा कैसे हैं तो आप ब्याज पर कैसे उठा सकते हैं।

लेकिन यदि आपके इतने रुपए नहीं है जो कि आप ब्याज पर दे सकें लेकिन फिर भी आप इस बिजनेस को करना चाहते हैं तो यह बिजनेस आपके लिए बिल्कुल भी नहीं है।


आपको ब्याज दरें तय करनी होगी?

जब आप किसी व्यक्ति को ब्याज पर पैसे दे रहे हैं तो आपको पैसे देने से पहले ब्याज दर तय करनी होगी ताकि पैसे लेने वाला व्यक्ति आपको एक सही ब्याज दे सकें।

लेकिन आपको शुरुआती दिनों में अधिकतर व्यक्तियों से बहुत ही कम ब्याज लेनी होगी जिससे कि आप से अधिकतर लोग आसानी के साथ जुड़ सकें।

लेकिन की जानकारी के लिए बता दूंगी आप कानूनी तौर पर से ब्याज ले सकते हैं लेकिन यह आपके ऊपर निर्भर करता है।


आप अपने काम का सही प्रकार से प्रचार प्रसार करें?

जब आप अपने काम का सही प्रकार से प्रचार करते हैं तो आपसे बहुत सारे लोग जुड़ने लगते हैं, लेकिन बहुत सारे लोग ऐसे भी होते हैं।

जो कि ब्याज पर पैसे देना चाहते हैं लेकिन बिना किसी प्रचार प्रसार के उनसे कोई व्यक्ति जोड़ नहीं पाता है, इसलिए आपको तरह-तरह के सोशल मीडिया पर प्रचार प्रसार करना होगा।


सही लोगों को पैसे देना शुरू करें?

ब्याज का बिजनेस करना हर व्यक्ति के बस की बात नहीं है क्योंकि हर व्यक्ति पर इतने पैसे नहीं होते हैं जो कि ब्याज पर काम कर सकें।

लेकिन जिन व्यक्तियों के पास पैसे होते हैं वही व्यक्ति इस काम को करते हैं लेकिन यदि आपके पास कितने पैसे हैं।

जो भी आप ब्याज पर उठा सकते हैं तो आपको कुछ ऐसे लोगों को चुनना है जो आपके पैसे ब्याज सहित वापस कर दे।

क्योंकि आजकल देखा गया है कि बहुत सारे व्यक्ति ऐसे भी होते हैं जोगी ब्याज पर पैसे आसानी के साथ ले लेते हैं लेकिन जब देने की बारी आती है तो बता दे नहीं पाते हैं।

उसका यही कारण होता है कि इस प्रकार के व्यक्तियों को हमें पैसे ब्याज पर नहीं देनी चाहिए जो बाद में पैसे वापस ना कर सके।


आपको ब्याज पर पैसे देने के लिए लाइसेंस लेना होगा?

भारत देश में ब्याज पर पैसे देने के बहुत सारे नियम होते हैं यदि आप नियमों का पालन करते हैं ब्याज पर पैसे देते हैं, तो आप कानून के नियमों का पालन कर रहे हैं।

लेकिन यदि आप कानून का पालन नहीं तो आपको कुछ परेशानियों का सामना करना पड़ सकता है।

लेकिन यदि आपको ब्याज पर पैसे देने के लिए लाइसेंस बनवाना है तो आपको अपने नजदीकी पुलिस स्टेशन या अदालत से आसानी के साथ बनवा सकते हैं।

लेकिन आपको ब्याज पर पैसे देने के लिए लाइसेंस के लिए आवेदन करना होगा और कुछ दिन में जाकर आपका लाइसेंस बनकर तैयार हो जाएगा।

जब आपका लाइसेंस बन जाता है तो फिर आप किसी भी व्यक्ति को ब्याज पर पैसे कानून रूप से दे सकते हैं, फिर आपके ऊपर कोई भी किसी भी प्रकार की उंगली नहीं उठाएगा।

आप अपना लाइसेंस किसी जानकारी से वकील से बनवा सकते हैं लेकिन आपको कुछ डॉक्यूमेंट की आवश्यकता होगी।


लाइसेंस बनवाने के लिए जरूरी दस्तावेज

  • साहूकार के लिए आवेदन फॉर्म होना चाहिए?
  • आवेदक कम से कम दसवीं कक्षा पास होना चाहिए?
  • आपका आधार कार्ड होना चाहिए?
  • आपके पास पैन कार्ड भी होना चाहिए?
  • राशन कार्ड भी होना चाहिए?
  • आपके जिले का स्थाई निवास प्रमाण पत्र होना चाहिए?

आपको अपनी आमदनी का टैक्स चुकाना होगा?

जब आपको सरकार के द्वारा लाइसेंस दे दिया जाता है तो आपको सालाना अपनी आमदनी का टैक्स भरना होगा।

आपको पूरा का पूरा टेक्स्ट नियमों के अनुसार सरकार को चुकाना होगा, ताकि आप बाद में किसी भी समस्या में ना आ जाए।

लेकिन आपको इसके लिए सरकार के टैक्स से जुड़े नियमों को भी पढ़ना होगा जिसके बाद आप यह समझ सकेंगे कि आपको सरकार को कितना टैक्स देना होगा।


ब्याज पर पैसे देने के क्या-क्या नियम होते हैं?

ब्याज पर पैसे देने के भारत देश में बहुत सारे सरकारी नियम होते हैं जिनका आपको पालन करना होगा।

ब्याज पर पैसा देना भारतीय संविदा अधिनियम अट्ठारह सौ बहत्तर के अंदर आता है, इस नियम के अनुसार कोई भी व्यक्ति किसी भी व्यक्ति को आसानी से साथ पैसे ब्याज पर दे सकता है।

लेकिन फिर भी आपको भारत के कुछ नियमों पर ध्यान देना चाहिए जिससे भी आपको किसी भी प्रकार की कानूनी परेशानी का सामना ना करना हो।

क्योंकि भारत देश में बहुत सारे ऐसे लोग हैं जो कि ब्याज पर पैसे बिना नियमों के दे देते हैं फिर बाद में वह परेशानियों का सामना करते हैं।


ब्याज पर पैसे देने के क्या नियम होते हैं।

  • ब्याज पर पैसे देने के बहुत सारे नियम है जिसमें आप बिजनेसमैन होनी चाहिए आपके पास इतनी इनकम हो जो भी आप किसी व्यक्ति को पैसे ब्याज पर दे सकें और आपके पास लाइसेंस भी होना चाहिए।
  • ब्याज पर पैसे देने के नियम के अंदर आपको जिस व्यक्ति को आप पैसे दे रहे हैं उससे यह जानकारी हासिल करनी है कि वह व्यक्ति किस लिए पैसे आपसे ले रहा है आपको यह पता होना चाहिए।
  • यदि आप किसी ऐसे व्यक्ति को ब्याज पर पैसे दे रहे हैं जो गलत कामों में आपके पैसे को प्रयोग कर सकता है आपको भारतीय कानून के नियम के अनुसार ऐसे व्यक्ति को बिल्कुल भी पैसे नहीं देने चाहिए।
  • जब आप अपने पैसों से ब्याज पर कमाई करते हैं उस कमाई का टैक्स आपको सरकार को लाजमी देना चाहिए यदि आप सरकार को टैक्स नहीं देते हैं तो आप बहुत सारी समस्याओं में आ सकते हैं।
  • जब आप किसी भी व्यक्ति को ब्याज पर पैसे देते हैं तो उस व्यक्ति को ब्याज पर पैसे देने से पहले कानूनी तौर पर एग्रीमेंट लिखवा ले, तभी आप उस व्यक्ति को पैसे दें।
  • जिस व्यक्ति को आप प्याज के तौर पर पैसे दे रहे हैं उस व्यक्ति की गारंटी के तौर पर आप जमीन के कागज या फिर आप जेवरात रखवा सकते हैं ताकि पैसे ना देने पर आपके पैसे की भरपाई की जा सके।
  • यदि कोई व्यक्ति ज्यादा नशे की हालत में रहता हो आपको उस व्यक्ति को ब्याज पर पैसे नहीं देने हैं, क्योंकि ज्यादातर ऐसे व्यक्ति ब्याज पर पैसे लिए हुए वापस नहीं कर पाते हैं।

ब्याज पर पैसे देने से जुड़ी सावधानी?

  • जब आप ब्याज पर पैसे देने का बिजनेस शुरू कर रहे हैं तो आपको कानूनी दांवपेच की जानकारी होना जरूरी है ताकि आप आसानी के साथ अपने पैसे वापस कर सकें।
  • ब्याज पर पैसे देने के लिए आपकी जान पहचान अधिक से अधिक सही लोगों में होनी चाहिए ताकि आप अपने बिजनेस को लंबे समय तक चला सके।
  • लेकिन आपको यह ध्यान रखना है कि आपके पास इस बिजनेस में केवल गरीब लोग इसी आते हैं इसलिए आपको अपने स्वभाव में बहुत ज्यादा नर्मी रखनी होगी।
  • लेकिन जब आपको किसी व्यक्ति को देखकर ऐसा लगता है कि यह व्यक्ति आपके पैसे वापस नहीं कर सकता है तो आपको उस व्यक्ति को पैसे नहीं देने चाहिए।
  • आप किसी भी व्यक्ति को ब्याज पर पैसे जुबान के आधार पर बिल्कुल भी ना दें यदि आप जुबान के आधार पर पैसे देते हैं तो आपके पैसे मारे जा सकते हैं।

Further reading


निष्कर्ष 

यदि देखा जाए तो आज भी भारत देश में बहुत सारे ऐसे गरीब लोग हैं जो कि ब्याज पर पैसे अपने पड़ोसियों से लेते रहते हैं।

लेकिन कुछ ऐसे भी लोग होते हैं जो ब्याज पर पैसे गलत कामों के लिए लेते हैं यदि आप किसी ऐसे व्यक्ति को ब्याज पर पैसे देते हैं।

तो आपको बहुत सारी परेशानियों का सामना करना पड़ सकता है इसलिए आपको ऐसे व्यक्ति को बिल्कुल भी पैसे नहीं देने चाहिए।

हम उम्मीद करती हो कि हमारे द्वारा लिखा हुआ यह लेख आपको जरूर पसंद आया होगा, क्योंकि इस लेख में हमने आपको यह बताया है कि किस प्रकार से आप ब्याज का बिजनेस स्टार्ट कर सकते हैं।

लेकिन कानूनी तौर पर यदि आप कानून की कोई सहायता नहीं देते हैं इस बिजनेस को स्टार्ट करने में तो आप बहुत सारी परेशानियों का सामना कर सकते हैं।

1 thought on “Byaj Par Paise Dene Ke Niyam | ब्याज पर पैसे कैसे दें?”

Comments are closed.