चन्द्र ग्रहण किसे कहते है? | Chandra Grahan Kise Kahate hain

Chandra Grahan Kise Kahate hain: चंद्र ग्रहण किसे कहते हैं यदि आप लंबे समय से यह जानने की कोशिश कर रहे थे लेकिन आप अभी तक यह नहीं पता लगा पाए कि चंद्र ग्रहण किसे कहते हैं | यदि आप चंद्र ग्रहण के बारे में विस्तार से जानना चाहते हैं तो आपको यह लेख जरूर पढ़ना चाहिए|

चन्द्र ग्रहण किसे कहते है?

जब सूर्य पृथ्वी तथा चंद्रमा एक रेखा में आ जाते हैं तब इस प्रकार की स्थिति में चंद्रमा पृथ्वी की परछाई से पूरी तरह छिप जाता है इस स्थिति को ही चंद्र ग्रहण कहा जाता है | प्राचीन काल से ही चंद्र ग्रहण की यह स्थिति अधिकतर पूर्णिमा वाले दिन घटित होती है|

WhatsApp Group Join Now
Telegram Group Join Now
Instagram Group Join Now

जब चंद्रमा पृथ्वी की परछाई से छुप जाता है तो उसे दौरान चंद्रमा काले रंग का दिखाई पड़ता है | कुछ घंटे के बाद यह धीरे-धीरे लाल रंग का होने लगता है | चंद्रमा के इस रूप को वैज्ञानिकों के द्वारा “ब्लड मून” कहा जाता है|

चंद्र ग्रहण के कितने प्रकार होते हैं?

चांद ग्रहण निम्नलिखित तीन प्रकार का होता है|

  1. पूर्ण चंद्र ग्रहण
  2. पेनुमब्रल चंद्र ग्रहण
  3. आंशिक चंद्र ग्रहण

FAQs | चन्द्र ग्रहण किसे कहते है?

Read More: प्राचीन भारत का टाटानगर किसे कहते हैं?


चंद्र ग्रहण का अर्थ क्या है?

जब पृथ्वी, सूर्य तथा चंद्रमा एक सीधी रेखा में स्थित हो जाते हैं तो इस स्थिति में चंद्रमा पृथ्वी से पूरी तरह छुप जाता है|

स्थिति को ही चंद्र ग्रहण कहा जाता है | प्राचीन कल से ही यह स्थिति पूर्णिमा वाले दिन घटित होती है|


चंद्र ग्रहण कब लगता है?

जब चंद्रमा, सूर्य और पृथ्वी एक सीधी रेखा में आ जाते हैं स्थिति को चंद्र ग्रहण कहते हैं|


चंद्र ग्रहण क्यों होता है?

जब चंद्रमा और सूर्य के बीच में पृथ्वी आ जाती है तो उसे प्रक्रिया को चंद्र ग्रहण कहा जाता है क्योंकि चंद्रमा पृथ्वी की परछाई में पूरी तरह छुपा जाता है|

1 thought on “चन्द्र ग्रहण किसे कहते है? | Chandra Grahan Kise Kahate hain”

Leave a Comment