काला और बाला का देवता किसे कहते हैं? | Kala Aur Bala Ka Devta Kise kahate Hain

Kala Aur Bala Ka Devta Kise kahate Hain: यदि देखा जाए तो भारत देश में आज के समय में बहुत सारे देवी देवताओं की पूजा की जाती है। यदि आप किसी भी धर्म के हो आप किसी न किसी ईश्वर को जरूर मानते होंगे। लेकिन क्या आपको पता है काला और बाला का देवता किसे कहते हैं।

भारत देश में आज भी बहुत सारे लोगों को यह नहीं पता है कि काला और बाला का देवता किसे कहते हैं। यदि आप उनके बारे में कोई भी जानकारी नहीं रखते हैं लेकिन आपको इन देवताओं के बारे में विस्तार से जानकारी चाहिए तो आपको यह लेख जरूर पढ़ना चाहिए।

WhatsApp Group Join Now
Telegram Group Join Now
Instagram Group Join Now
Kala Aur Bala Ka Devta Kise kahate Hain
Kala Aur Bala Ka Devta Kise kahate Hain

क्योंकि इस लेख में हमने काला और बाला देवताओं से जुड़े हुए बहुत सारे सवालों के जवाब इस लेख में विस्तार से साझा किए हैं। जब आप इस लेख को सही प्रकार से पढ़ेंगे तो आपको आपके सवाल का जवाब आसानी के साथ मिल जाएगा तो चलिए शुरू करते हैं।

काला और बाला का देवता किसे कहते हैं? | Kala Aur Bala Ka Devta Kise kahate Hain

राजस्थान में अधिकतर लोग लोक देवता तेजाजी को काला और बाला देवता रहते हैं। इनका जन्म राजस्थान के नागौर जिले में खरनाल गांव में हुआ था। इनका विवाह बहुत ही छोटी उम्र में हो गया था। तेजाजी की पत्नी का नाम पेमल था।

तेजाजी एक दिन अपनी पत्नी पेमल को लेने के लिए अपनी घोड़ी लीलण पर सवार होकर अपनी ससुराल पनेर पहुंच गए थे। लेकिन तेजाजी ने जाते समय रास्ते में एक सांप को जलते हुए देखा और उन्होंने उसे सांप को आज से बचाया।

लेकिन तभी सांप ने तेजाजी को जीव पर काट लिया इसके कारण तेजाजी की वहीं पर व्यक्ति हो गई थी। हालांकि तेजाजी को सांपों का देवता भी कहा जाता है। आज की समय में तेजाजी के मंदिर को देवरा या थन कहते हैं। आज भी हर साल तेजाजी की ससुराल में मेला लगता है।


More to ask

Read More: राजस्थान का कानपुर किसे कहते हैं? | Rajasthan Ka Kanpur Kise Kahate Hain

काला और बाला देवता के नाम से कौन प्रसिद्ध है?

काला और बाला के नाम से तेजाजी देवता बहुत ही प्रसिद्ध है।

राजस्थान के पांच लोक देवता कौन-कौन से हैं?

राजस्थान के पांच लोक देवता पाबूजी, हड़बूजी, रामदेव जी, गोगा जी एवं मांगलिया मेहाजी यह हैं।

राजस्थान में नागौर के देवता किसे कहा जाता है।

राजस्थान में नागों के देवता गोगाजी महाराज को कहा जाता है।