मेमोरी किसे कहते है? | Memory Kise Kahate Hain

Memory Kise Kahate Hain: अपने मेमोरी शब्द अधिक बार सुना होगा लेकिन क्या आपको पता है कि मेमोरी किसे कहते हैं | यदि देखा जाए तो आज के समय में मेमोरी का बहुत ही कम उपयोग कंप्यूटर, लैपटॉप तथा मोबाइल फोन में किया जा रहा है|

लेकिन यदि देखा जाए तो बीते हुए समय में मेमोरी का इस्तेमाल कंप्यूटर, लैपटॉप तथा मोबाइल फोन में बहुत ज्यादा इस्तेमाल किया जाता था | लेकिन आज की पीढ़ी को यह नहीं पता है कि मेमोरी किसे कहते हैं मेमोरी का क्या मतलब होता है और यह कितने प्रकार की होती है|

यदि आपको भी यह नहीं पता है की मेमोरी किसे कहते हैं और यह कितने प्रकार की होती है तो आपको यह पोस्ट जरूर पढ़नी चाहिए | क्योंकि यहां हमने आपको मेमोरी के बारे में विस्तार से जानकारी साझा की है ताकि आपको मेमोरी के बारे में पता चल सके|

मेमोरी किसे कहते है? | Memory Kise Kahate Hain

मेमोरी वह जगह है जहां पर कंप्यूटर, लैपटॉप तथा मोबाइल फोन की डाटा को संग्रहित करती हैं | उदाहरण के लिए जैसे की हमारा दिमाग भी मेमोरी की तरह कार्य करता है |

क्योंकि हम बहुत सारी बातों को अपने दिमाग में ऐड कर लेते हैं इस प्रकार से मेमोरी भी बहुत सा डाटा अपने पास सुरक्षित स्टोर कर लेती है|

WhatsApp Group Join Now
Telegram Group Join Now
Instagram Group Join Now
 Memory Kise Kahate Hain
Memory Kise Kahate Hain

मेमोरी कंप्यूटर का वह इनपुट डिवाइस होता है जिसमें किसी भी प्रकार का कोई भी डाटा स्टोर किया जा सकता है | जैसे हम बहुत सारी बातों को दिमाग में रख लेते हैं|

ठीक उसी प्रकार से हमारी मेमोरी भी डाटा को पूरी तरह सुरक्षित रखने का कार्य करती है | मेमोरी कंप्यूटर का बहुत महत्वपूर्ण हिस्सा माना जाता है|

कंप्यूटर मेमोरी कितने प्रकार की होती है?

कंप्यूटर मेमोरी निम्नलिखित दो प्रकार की होती है

  • प्राथमिक मेमोरी ( Primary Memory )
  • सेकेंडरी मेमोरी ( Secondary Memory )

प्राथमिक मेमोरी क्या होती है?

अधिकतर लोग इस मुख्य मेमोरी भी कहते हैं | प्राथमिक मेमोरी कंप्यूटर का एक महत्वपूर्ण अंग माना जाता है|

क्योंकि यह वर्तमान समय में आने वाले सभी प्रकार के दाता प्रोग्राम और निर्देशों को पूरी तरह सुरक्षित रखने का कार्य करती है | मदरबोर्ड पर स्थित यह डाटा को पढ़ने तथा लिखने के लिए बेहद तेज अनुमति देने का कार्य करती है|

  • गतिशील रैम ( Dynamic RAM )
  • स्टेटिक रैम ( Static RAM )
  • तुल्यकालिक रैम ( Synchronous RAM )

सेकेंडरी मेमोरी क्या होती है?

सेकेंडरी मेमोरी कंप्यूटर की द्वितीय मेमोरी कहलाई जाती है | लेकिन इस मेमोरी में सूचनाओं को संग्रह करने की अधिक क्षमता होती है | सेकेंडरी मेमोरी का उदाहरण ROM होता है|

  • PROM: प्रोग्रामेबल रीड-ओनली मेमोरी ( Programmable Read-Only Memory )
  • MROM: नकाबपोश रीड-ओनली मेमोरी ( Masked Read-Only Memory )
  • EPROM: इरेजेबल प्रोग्रामेबल रीड-ओनली मेमोरी ( Erasable Programmable Read-Only Memory )
  • EEPROM: विद्युत रूप से मिटाने योग्य प्रोग्रामेबल रीड-ओनली मेमोरी ( Electrically Erasable Programmable Read-Only Memory )

सेकेंडरी मेमोरी व प्राइमरी मेमोरी में अंतर क्या होता है?

सेकेंडरी मेमोरी में और प्राइमरी मेमोरी में काफी अंतर होता है जिसे आप मुख्य तौर पर नीचे की ओर देख सकते हैं|

  • सेकेंडरी मेमोरी मैग्नेटिक अथवा प्रकाशीय डिस्क टोप होती हैं | वही प्राइमरी मेमोरी सेमीकंडक्टर पदार्थ के चिप से बनी हुई होती है|
  • सेकेंडरी मेमोरी में स्थाई रूप से डाटा संग्रहित रहता है | वही प्राइमरी मेमोरी में डाटा अस्थाई रूप से संग्रहित रहता है|
  • सेकेंडरी मेमोरी में गति की तुलना कम पाई जाती है | वही प्राइमरी मेमोरी में डाटा ट्रांसफर की गति बहुत तेज पाई जाती है|
  • सेकेंडरी मेमोरी को किसी अन्य डिवाइस में जोड़ा नहीं जा सकता है | लेकिन प्राइमरी मेमोरी को अन्य डिवाइस में आसानी के साथ जोड़ा जा सकता है|

मेमोरी कितने प्रकार की होती है?

मेमोरी किसे कहा जाता है यह तो आपको पता चल गया होगा लेकिन आपको यह पता होना चाहिए की मेमोरी कितने प्रकार की होती है | क्योंकि यह सवाल काफी बार कई सारी मुख्य परीक्षाओं में पूछा गया है की मेमोरी किसे कहते हैं और मेमोरी कितने प्रकार की होती है|

यदि हम कंप्यूटर की बात करें तो कंप्यूटर मेमोरी दो प्रकार की होती है

  1. RAM (रेम)
  2. ROM (रोम)

RAM (रेम) मेमोरी क्या है? | RAM kya hai

यह एक ऐसी कंप्यूटर की मेमोरी होती हैं | जो तभी काम करती है जब आपका कंप्यूटर या लैपटॉप चालू होता है यह अपना कार्य करना शुरू कर देती है |

जब आप अपने कंप्यूटर या लैपटॉप को बंद करते हैं तो यह RAM (रेम) भी एकत्रित की हुई सभी सूचनाओं को पूरी तरह नष्ट कर देती है|

रेम (RAM) मेमोरी का Full From रैंडम एक्सेस मेमोरी होता है | रेम एक अस्थाई मेमोरी होती है। यदि आप कोई वर्क कर रहे हैं|

यदि बिजली किसी न किसी कारण से चली जाती है और आपका डिवाइस बंद हो जाता है तो इस रैम में स्टोर डाटा पूरी तरह डिलीट हो जाता है | मुख्यतौर पर यह RAM तीन प्रकार की होती है|

ROM (रोम) मेमोरी क्या है? | ROM kya hai

ROM एक स्थाई मेमोरी होती है | आप इस मेमोरी में संग्रहित प्रोग्राम को बदल नहीं सकते हैं | ROM मेमोरी का Full From (Read Only Memory) है | इस मेमोरी में पूरी तरह फिक्स प्रोग्राम देखे जाते हैं इन प्रोग्राम को आसानी के साथ बदल नहीं जा सकता है|

उदाहरण के लिए जैसे की इस मेमोरी में BIOS नामक एक प्रोग्राम होता है जो हमारे कंप्यूटर को ऑन करने में काफी ज्यादा मदद करता है यह केवल ROM मेमोरी में ही होता है|


Read More: ओट्स किसे कहते हैं? | Oats Kise Kahate Hain


अंतिम दो शब्द

यदि आपने हमारे द्वारा लिखा हुआ यह लेख सही प्रकार से पड़ा है तो आपको पता चल गया होगा की मेमोरी किसे कहते हैं |

क्योंकि इस लेख में हमने यह विस्तार से साझा किया है कि मेमोरी किसे कहते हैं और आपको मेमोरी से जुड़े हुए बहुत सारे सवालों के भी जवाब मिल चुके होंगे|