घर बैठे पटवारी की शिकायत कैसे करें? मात्र 5 मिनट में

Patwari Ki Shikayat Kaha Darj Kare: यदि आपके क्षेत्र का पटवारी आपके किसी कार्य को करने से मना कर रहा है या आपके काम को समय पर नहीं कर रहा है और आप पटवारी के इस व्यवहार से बहुत ज्यादा परेशान है तो आप अपने क्षेत्र के पटवारी की शिकायत दर्ज कर सकते हैं।

यदि आप लंबे समय से अपने क्षेत्र के Patwari Ki Shikayat Darj Karna Chahte Hain लेकिन आपको यह नहीं पता है कि पटवारी की शिकायत कहां और कैसे दर्ज करते हैं, तो आपको पटवारी की शिकायत दर्ज करने के लिए इसलिए हमें बेहद आसान प्रक्रिया साझा की है।

जिससे कि आप अपने क्षेत्र के पटवारी की शिकायत करके अपने काम आसान तरीके से करवा सकें, क्योंकि अधिकतर ग्रामीण क्षेत्रों में पटवारी से बहुत सारे लोग काम को लेकर बहुत ज्यादा परेशान होते हैं इसीलिए वह अपने क्षेत्र के पटवारी की शिकायत करना चाहते हैं।

WhatsApp Group Join Now
Telegram Group Join Now
Instagram Group Join Now
Patwari Ki Shikayat Kaha Darj Kare
Patwari Ki Shikayat Kaha Darj Kare

लेकिन जब यह नहीं पता होता है कि पटवारी की शिकायत कहां और किस प्रकार की जाती है तो वह शिकायत नहीं कर पाते हैं इसीलिए हमने इस लेख में यह बताया है कि आप अपने क्षेत्र के पटवारी की शिकायत कैसे कर सकते हैं।


पटवारी की शिकायत कैसे दर्ज करें | Patwari Ki Sikayat Kaise Darj Kare

अपने क्षेत्र के पटवारी की शिकायत दर्ज करने की कई अलग-अलग तरीके होते हैं जिनके जरिए हम अपने क्षेत्र के पटवारी की शिकायत कर सकते हैं, भारत सरकार ने ऑनलाइन तथा ऑफलाइन शिकायत दर्ज करने के आपको ऑप्शन दिए हैं।

पटवारी की शिकायत करना बेहद आसान होता है आप ऑनलाइन तथा ऑफलाइन दोनों प्रकार से पटवारी की शिकायत आसान तरीके से कर सकते हैं शिकायत दर्ज करने के लिए आपको नीचे दिए गए कुछ तरीके फॉलो करने होंगे।


कॉल के द्वारा अपनी शिकायत दर्ज करें?

यदि आप मोबाइल फोन का इस्तेमाल करते हैं तो आप अपने मोबाइल फोन से पटवारी की शिकायत टोल फ्री नंबर 14404 या फिर 1800-11-4000 पर कभी भी कॉल कर सकते है।

जब आपके द्वारा टोल फ्री नंबर पर कॉल की जाती है तो सबसे पहले आप कस्टमर केयर अधिकारियों से बात करते हैं आपको इन कस्टमर केयर अधिकारियों के द्वारा पूछे गए कुछ सवालों के जवाब देने होंगे।

यह आपसे आपका नाम पता और आपकी परेशानी पूछते हैं आपको यह सभी सही प्रकार से बताने हैं, तभी कस्टमर केयर अधिकारी आपकी शिकायत दर्ज करते हैं और आपके नंबर पर एक मैसेज प्राप्त हो जाता है यहां पर आपकी शिकायत से जुड़ी हुई जानकारी लिखी रहती है।


तहसीलदार से शिकायत कैसे दर्ज करें?

आप अपने क्षेत्र के पटवारी की शिकायत तहसील में जाकर भी आसान तरीके से कर सकते हैं लेकिन आपको पटवारी की शिकायत करने से पहले आपके पास कुछ सबूत होने चाहिए जिससे कि आप पटवारी की शिकायत तहसील में जाकर कर सकें।

तहसील में शिकायत करने के लिए आपको लिखित तौर पर कार्यालय में जमा करनी होगी ताकि आपकी शिकायत तहसीलदार तक पहुंच सके, जब तहसीलदार आपकी शिकायत को देखा है और पटवारी के खिलाफ कुछ सबूत मिलते हैं तो वह पटवारी के खिलाफ कार्रवाई करते हैं।

जीएसटी चोरी की शिकायत कैसे करें?

जिला कलेक्टर से शिकायत कैसे दर्ज करें?

आपने अपनी शिकायत तहसील में भी पहुंचाई है लेकिन अभी तक कोई भी कार्रवाई पटवारी के खिलाफ नहीं हुई है तो आप जिला कलेक्टर के पास अपनी शिकायत दर्ज कर सकते हैं अपनी शिकायत दर्ज करने के लिए आपको लिखित तौर पर देना होगा।

क्योंकि कई बार जिला कलेक्टर अधिकतर लोगों की शिकायत सुनता है और कुछ शिकायत लिखित तौर पर देखा है इसलिए आपको अपनी शिकायत लिखकर जिला कलेक्टर के ऑफिस में जमा कर देनी है।

लेकिन आपके पास पटवारी के खिलाफ कुछ ठोस सबूत होने चाहिए जिन्हें आप जिला कलेक्टर के पास पेश कर सकें यदि आपके पास अभी कोई ठोस सबूत नहीं है तो आपकी करवाई दर्ज नहीं हो सकती आपको यह ध्यान रखना है।


ऑनलाइन शिकायत कैसे दर्ज करें?

यदि आप चाहे तो पटवारी के खिलाफ ऑनलाइन ही शिकायत दर्ज कर सकते हैं क्योंकि भारत सरकार ने ऑनलाइन शिकायत दर्ज करने के लिए वेबसाइट जारी कर रखी है।

ताकि पटवारी की मनमानी के चलते ग्रामीण क्षेत्र के लोग शिकायत कर सकें हालांकि बहुत ही कम लोग ऑनलाइन शिकायत दर्ज कर पाते हैं यदि आप करना चाहते हैं तो यह प्रक्रिया बहुत आसान है।

पटवारी के खिलाफ शिकायत दर्ज करने के लिए आपको हमारे द्वारा बताए गए कुछ आसान प्रक्रिया को फॉलो करना होगा तभी आप पटवारी के खिलाफ कार्रवाई कर सकते हैं।

👉 आपको सबसे पहले अपने मोबाइल फोन या पीसी में अपनी राज्य के स्टेट सेंटर की वेबसाइट को ओपन करना होगा।

👉 जब आप छत्तीसगढ़ राज्य के रहने वाले हैं तो आपको CG की वेबसाइट को ओपन करना होगा।

👉 वेबसाइट को ओपन करते ही जिसमें आपको रजिस्टर करने का विकल्प दिखाई पड़ता है आपको सही प्रकार से रजिस्टर करना है।

👉 रजिस्टर करने के लिए आपको अपना मोबाइल नंबर, ईमेल, नाम और पता पता होना चाहिए।

👉 अब आपको शिकायत दर्ज करने का एक विकल्प दिखाई देगा जिस पर आपको क्लिक करना है और पूछी गई जानकारी आपको सही प्रकार से दर्ज करनी है।

👉 अब आपके मोबाइल फोन या पीसी में एक नया चीज दिखाई देगा जहां पर आपको अपनी शिकायत पटवारी के खिलाफ दर्ज करनी है।

👉 यह दर्ज करते ही आपको दस्तावेज अपलोड करने का एक विकल्प दिखाई पड़ता है आपके यहां अपने शिकायत से जुड़े हुए सभी दस्तावेज अपलोड करने होंगे।


अतिक्रमण की शिकायत कैसे करें?

यह प्रक्रिया आपके द्वारा सही प्रकार से की जाती है तो आपकी शिकायत ऑनलाइन राज्य सरकार तक पहुंच जाती है, कुछ ही दिन के बाद आप पटवारी के खिलाफ जांच के आदेश आ जाते हैं।

क्योंकि बहुत सारे अधिकारी पटवारी के खिलाफ जांच बैठा देते हैं, जब पटवारी जांच में दोषी पाया जाता है तो पटवारी को निलंबित या फिर कानूनी तौर पर सजा मिलती है।


Note:- यदि आप पटवारी के खिलाफ शिकायत दर्ज कर रहे हैं तो आपके पास पटवारी के खिलाफ (ठोस सबूत) होने चाहिए ताकि आप अपनी शिकायत मजबूती के साथ पेश कर सकें।


घर बैठे एसपी से शिकायत कैसे करें?

Conclusion | पटवारी की शिकायत कैसे करें?

हमारे द्वारा लिखे हुए इस लेख में आपको यह बताया गया है कि आप किस प्रकार से अपने क्षेत्र के पटवारी की शिकायत दर्ज कर सकते हैं क्योंकि कई बार देखा गया है कि पटवारी बहुत सारे लोगों का काम करने से मना कर देते हैं।

इसीलिए अधिकतर लोग पटवारी की मनमानी के चलते बहुत ज्यादा परेशान हो जाते हैं और पटवारी के खिलाफ शिकायत दर्ज कर देते हैं, यदि आप भी अपने क्षेत्र के पटवारी से बहुत ज्यादा परेशान है तो आप भी शिकायत दर्ज कर सकते हैं।

यदि आप लंबे समय से अपने क्षेत्र के पटवारी की शिकायत दर्ज करना चाहते थे लेकिन कर नहीं पा रहे हैं तो आप हमें कमेंट बॉक्स के जरिए बता सकते हैं हम आपकी पटवारी के खिलाफ शिकायत दर्ज करने में मदद कर सकते हैं।

1 thought on “घर बैठे पटवारी की शिकायत कैसे करें? मात्र 5 मिनट में”

Leave a Comment