Rashi Name in Hindi | 12 राशियों के नाम और चिन्ह

Rashi Name in Hindi: प्राचीन काल से ही राशि और राशिफल के बारे में अधिक चर्चा सनातन धर्म के लोगों के द्वारा की जाती है |

भारत देश में प्रतिदिन सुबह-सुबह हर चैनल पर 7.00 बजे बड़े-बड़े विद्वान राशिफल की बारे में जानकारी साझा करते हैं|

भारत देश में प्राचीन काल से ही बहुत सारे व्यक्ति अपनी राशि और राशिफल देखकर ही अपने दिन की शुरुआत करते हैं | कुछ व्यक्ति भारत में राशि और राशिफल पर अपना विश्वास नहीं रखते हैं वही कुछ व्यक्ति अपना विश्वास पूरी तरह रखते हैं|

लंबे समय से कुछ व्यक्ति अपना दिन टीवी पर राशि और राशिफल देखकर ही करते हैं वह यह देखते हैं कि उनका दिन आज शुभ रहेगा या फिर अशुभ दिन रहेगा | क्योंकि यह जानकारी प्रतिदिन विद्वानों के द्वारा टीवी पर साझा कर दी जाती हैं|

प्राचीन काल से ही सनातन धर्म समुदाय के अंतर्गत व्यक्ति के जो नाम होते हैं उनके नाम के पहले अक्षर से ही उनकी राशि का पता चलता है |

वह अपनी राशि देखकर टीवी के जरिए यह जान लेते हैं कि आज कौन सा रत्न शुभ रहेगा और कौन सा अंक सही रहेगा|

यदि आप भी लंबे समय से राशि और राशिफल के बारे में अधिक जानने की चाह रखते हैं | तो पहले आपको यह जानना होगा कि राशि कितने प्रकार की होती हैं |

किस प्रकार से अपनी राशि का पता लगाया जा सकता है | यदि आप अपनी राशि का पता लगान चाहते हैं तो आपको यह सामग्री विस्तार से पढ़नी होगी|

12 राशियों के नाम | All Rashi Name in Hindi and English (Rashi List)

  1. मेष | Mesh
  2. वृषभ | Vrishabh
  3. मिथुन | Mithun
  4. कर्क | Kark
  5. सिंह | Sinh
  6. कन्या | Kanya
  7. तुला | Tula
  8. वृश्चिक | Vrishchik
  9. धेनु | Dhenu
  10. मकर | Makar
  11. कुम्भ | Kumbh
  12. मीन | Meen

12 राशियों के अक्षर | 12 Rashiyon Ke Akshar

WhatsApp Group Join Now
Telegram Group Join Now
Instagram Group Join Now
क्रमांकराशि का नाम12 राशियों के अक्षर
1.मेषचू, चे, चो, ला, ली, लू, ले, लो, आ
2.वृष/वृषभई, उ, ए, ओ, वा, वी, वू, वे, वो
3.मिथुनका, की, कू, घ, ङ, छ, के, को, ह
4.कर्कही, हू, हे, हो, डा, डी, डु, डे, डो
5.सिंहमा, मी, मू, मे, मो, टा, टी, टू, टे
6.कन्याढो, प, पी, पू, ष, ण, ठ, पे, पो
7.तुलार, री, रू, रे, रो, ता, ति, तू, ते
8.वृश्चिकतो, न, नी, नू, ने, नो, या, यि, यू
9.धनुय, यो, भा, भि, भू, ध, फा, ढ, भे
10.मकरभो, जा, जी, खी, खू, खे, खो, गा, गी
11.कुम्भगू, गे, गो, स, सी, सू, से, सो, द
12.मीनदी, दू, थ, झ, ञ, दे, दो, च, ची

राशियो के चिन्ह

राशिसंकेत/चिन्ह
मेषमेढा
वृष/वृषभबैल
मिथुनयुवा दंपत्ति
कर्ककैकडा
सिंहशेर
कन्याकुवारी कन्या
तुलातराजू
वृश्चिकबिच्छु
धनुधनुष, धर्नुधारी
मकरमगरमच्छ
कुम्भघड़ा, कलश
मीनमछली

राशियों के गुरु का नाम

01.मेषमंगल
02. वृष/वृषभशुक्र ग्रह
03.मिथुनबुध्द ग्रह
04.कर्कचंद्रमा
05.सिंहसूर्य
06.कन्याबुध
07.तुलाशुक्र ग्रह
08.वृश्चिकमंगल
09.धनुवृहस्पति
10.मकरशनि देव
11.कुम्भशनि देव
12.मीनबृहस्पति

राशियों के नाम हिंदी व अंग्रेजी में | Rashi Name in Hindi & English

1.मेषAries
2.वृष/वृषभTaurus
3.मिथुनGemini
4.कर्कCancer
5.सिंहLeo
6.कन्याVirgo
7.तुलाLibra
8.वृश्चिकScorpius
9.धनुSagittarius
10.मकरCapricornus
11.कुम्भAquarius
12.मीनPisces

12 राशियों के नाम और उनकी जानकारी

प्राचीन काल से ही सनातन धर्म में 12 प्रकार की राशियों का वर्णन किया गया है | इन 12 प्रकार की राशियों के गुरु अलग-अलग होते हैं और साथ ही अलग-अलग ग्रह भी होते हैं |

इनके राशिफल भी अलग-अलग होते हैं | 12 प्रकार की राशियों के ऊपर आपके नाम और गुरु तथा साथ ही उनके निशान के बारे में आपको जानकारी विस्तार से दी है जिन्हें आप पढ़ सकते हैं|

1. मेष राशि

प्राचीन समय से ही सनातन धर्म में 12 प्रकार की राशियों को लोग मानते आए हैं | ऋषि मुनियों की माने तो 12 प्रकार की राशियों में से सबसे पहले राशि मेष राशि का नाम लिया जाता है |

मेघ राशि का नक्षत्र तारामंडल होता है | इस राशि का तत्व अग्नि होता है | वही इस मेघ राशि का अच्छा कार्डिनल होता है | साथ ही इस राशि को स्वामी के तौर पर मंगल ग्रह को माना जाता है|

2. वृषभ राशि

प्राचीन काल से ही वृषभ राशि वाले लोगों के लिए शुभ रंग नीला और गुलाबी माना जाता है | और साथ ही वृषभ राशि वाले लोगों के लिए एनरोल्ड शुभ रत्न माना जाता है |

जिन लोगों की राशि वृषभ होती है उनके लिए अच्छा दिन सोमवार, बुधवार और शुक्रवार होता है|

उनकी राशि का चिन्ह बैल होता है और उनके लिए प्राचीन काल से ही शुभ अंक 2 या 6 माना जाता है | लेकिन वृषभ राशि जिन लोगों की होती है |

उन लोगों की अक्सर कन्या और मकर राशि वाले लोगों के साथ अच्छी बनती है | अधिकतर वृषभ राशि वाले लोगों का झुकाव कला के क्षेत्र में अधिक होता है|

3. मिथुन राशि

मिथुन राशि को प्राचीन काल से ही तीसरे स्थान की राशि कहा जाता है | क्योंकि 12 राशियों में से मिथुन राशि तीसरे स्थान की होती है | मिथुन राशि का चिन्ह युवा दंपत्ति होता है |

इस राशि के स्वामी बुध ग्रह को माना जाता है और इस राशि को अंग्रेजी भाषा में जैमिनी कहा जाता है | मिथुन राशि का तत्व वायु होता है प्राचीन काल से ऋषि मुनियों का यह मानना है कि मिथुन राशि का उद्भव मिथुन तारामंडल से हुआ है|

4. कर्क राशि

कर्क राशि को प्राचीन काल से ही ऋषि मुनियों के द्वारा चौथ स्थान की राशि कहा जाता है | कर्क राशि का निशान केकड़ा होता है इस राशि के स्वामी चंद्रमा होते हैं | कर्क राशि को अंग्रेजी भाषा में कैंसर भी कहा जाता है|

कर्क राशि का शुभ दिन ऋषि मुनियों के द्वारा गुरुवार और मंगलवार होता है | इस राशि का सबसे अच्छा अंक दो या फिर सात माना जाता है |

जिन लोगों की कर्क राशि होती है उन लोगों की वृश्चिक और मीन राशि वाले लोगों के साथ अच्छी बनती है इनका शुभ रंग सफेद माना जाता है|

5. सिंह राशि

प्राचीन काल से ही सिंह राशि को 12 राशियों में से पांचवें स्थान पर रखा जाता है | सिंह राशि को अंग्रेजी भाषा में लियो कहा जाता है |

सिंह राशि के स्वामी सूरज देवता को माना जाता है | सिंह राशि का वायु तत्व अग्नि होता है | सिंह राशि वाले लोगों के लिए अच्छा दिन गुरुवार, मंगलवार और रविवार बताया जाता है|

जिन लोगों की राशि सिंह है उन लोगों के लिए प्राचीन काल से ही ऋषि मुनियों के द्वारा शुभ रंग पीला और आसमानी बताया गया है |

इनके लिए शुभ रत्न डायमंड माना जाता है | सिंह राशि वाले लोगों के लिए शुभ अंक एक और चार बताया गया है | जिन लोगों की राशि धनु होती है उन लोगों के साथ उनकी अच्छी बनती है|

6. कन्या राशि

ऋषि मुनियों के द्वारा प्राचीन काल से ही कन्या राशि को 12 राशियों में से छठा स्थान दिया गया है | अंग्रेजी भाषा में कन्या राशि को वर्गों कहा जाता है |

इस राशि का निशान कुंवारी कन्या होता है साथ ही इस राशि का स्वामी बुध देवता को माना गया है|

जिन लोगों की राशि कन्या होती है उन लोगों के लिए शुभ रंग नीला होता है और साथ ही उन लोगों का शुभ दिन सोमवार बुधवार और शुक्रवार होता है |

कन्या राशि वाले लोगों के लिए अच्छा अंक पांच होता है और कन्या राशि वाले लोगों की वृषभ और मकर राशि वाले लोगों के साथ अच्छी बनती है|

7. तुला राशि

12 राशियों में से तुला राशि को सातवां स्थान ऋषि मुनियों के द्वारा दिया गया है | तुला राशि का निशान तराजू होता है और राशि का स्वामी शुक्र ग्रह को माना जाता है | अंग्रेजी भाषा में तुला राशि को लिब्रा कहते हैं|

जिन लोगों की राशि तुला होती है उन लोगों के लिए शुभ रंग नीला बताया गया है | तुला राशि वाले लोगों के लिए अच्छा दिन सोमवार शनिवार तथा रविवार होता है और इनका शुभ अंक 6 होता है | कुंभ और मिथुन राशि वाले लोगों के साथ तुला राशि वाले लोगों की अच्छी बनती है|

8. वृश्चिक राशि

जिन लोगों की वृश्चिक राशि होती है उन लोगों के लिए ऋषि मुनियों ने लाल रंग और भूरा रंग बताया है | प्राचीन काल से ही वृश्चिक राशि को आठवां स्थान दिया गया है | इस राशि का निशान बिच्छू होता है|

वृश्चिक राशि का स्वामी मंगल होता है | इस राशि का शुभ रत्न ओपाल होता है | वृश्चिक राशि वाले लोगों के लिए अच्छा दिन सोमवार रविवार और बृहस्पतिवार बताया गया है |

इनके लिए सबसे अच्छा अंक 8 माना जाता है | साथ ही कर्क और मीन राशि वाले लोगों के साथ उनकी अच्छी बनती है|

9. धनु राशि

प्राचीन काल से ही ऋषि मुनियों ने धनु राशि को नवा स्थान दिया है | धनु राशि के स्वामी बृहस्पति माने जाते हैं |

अंग्रेजी भाषा में धनु राशि को सैजिटेरियस कहा जाता है | जिन लोगों की राशि धनु है उनके लिए शुभ रंग नीला, पीला और सुनहरा होता है|

ऋषि मुनियों के द्वारा जिन लोगों की राशि धनु होती है उन लोगों के लिए शुभ रत्न काला मोती होता है | साथ ही उनके लिए अच्छा दिन बुधवार, बृहस्पतिवार और रविवार होता है |

इनके लिए अच्छा अंक 9 माना जाता है | धनु राशि वाले सभी लोगों की मेघ और सिंह राशि वाले लोगों के साथ अच्छी बनती है|

10. मकर राशि

प्राचीन काल से ही मकर राशि को ऋषि मुनियों के द्वारा 12 राशियों में से दसवां स्थान दिया गया है | जिन लोगों की मकर राशि होती है उनके लिए अच्छा रंग सफायर होता है |

मकर राशि का चिन्ह मगरमच्छ होता है | प्राचीन काल से ही मकर राशि के स्वामी बृहस्पति को माना जाता है|

जिन लोगों की राशि मकर होती है उनके लिए सबसे अच्छा दिन शुक्रवार, मंगलवार और रविवार माना जाता है | साथ ही एक और आठ अंक उनके लिए अच्छा अंक माना जाता है |

जिन लोगों की राशि कन्या और वैभव राशि होती है उन लोगों के साथ मकर राशि वाले लोगों की अच्छी बनती है|

11. कुम्भ राशि

कुंभ राशि को 12 राशियों में से 11वां स्थान दिया गया है | इस कुंभ राशि का निशान घड़ा होता है | जिन लोगों की कुंभ राशि होती है उन लोगों के लिए ऋषि मुनियों के द्वारा अच्छा रंग नीला और कला होता है|

कुंभ राशि वाले लोगों के लिए अच्छा दिन शनिवार और मंगलवार होते हैं | कुंभ राशि वाले लोगों के लिए ऋषि मुनियों के द्वारा अच्छा अंक 8 माना जाता है|

12. मीन राशि

प्राचीन काल से ही ऋषि मुनियों के द्वारा मीन राशि को 12 राशियों में से 12वां स्थान दिया गया है | मीन राशि को अंग्रेजी भाषा में पाईसेस कहते हैं |

मीन राशि का निशान मछली होता है | जिन लोगों की राशि मीन होती है उनके लिए अच्छा रंग पीला और हरा होता है|

ऋषि मुनियों के द्वारा यह बताया गया है कि जिन लोगों की राशि मीन होती है उनके लिए शुभ रत्न पीला सफायर होता है | इनके लिए अच्छा दिन मंगलवार, गुरुवार और रविवार होता है |

साथ ही इनका शुभ अंक तीन माना जाता है और जिन लोगों की राशि करख और रक्षक राशि होती है उन लोगों के साथ मीन राशि वाले लोगों की अच्छी बनती है|


FAQ | 12 राशियों के नाम और चिन्ह

Read More: भारत का नेपोलियन किसे कहते हैं?


Q. कौन सी राशि शक्तिशाली होती है?

A. ऋषि मुनियों के द्वारा यह बताया गया है कि 12 राशियों में से सबसे ज्यादा शक्तिशाली राशि कुंभ राशि होती है | कुंभ राशि के स्वामी शनि होते हैं|


Q. झूठ बोलने वाली राशि कौन सी है?

A. जिन लोगों के द्वारा सबसे ज्यादा झूठ बोला जाता है उन लोगों की राशि कुंभ होती है|


Q. कौन सी राशि जिद्दी होती है?

A. ऋषि मुनियों के द्वारा यह बताया गया है की सबसे ज्यादा जिद्दी राशि वृषभ राशि होती है|


Q. कौन सी राशि के लोग दुखी होते हैं?

A. ऋषि मुनियों के द्वारा यह बताया गया है कि जिन लोगों की राशि कर्क होती है वह बहुत ज्यादा दुखी रहते हैं|


Q. कौन सी राशि के लोग बुद्धिमान माने जाते हैं?

A. ऋषि मुनियों के द्वारा जिन लोगों की राशि मेघ और कुंभ होती है वह बहुत ही ज्यादा बुद्धिमान व्यक्ति होते हैं|


Q. 12 राशियों के नाम क्या है?

A. 12 राशियों के नाम : मेष , वृषभ , मिथुन , कर्क, सिंह , कन्या, तुला, वृश्चिक, धेनु, मकर, कुम्भ , मीन|


Q. राशि को अंग्रेजी में क्या कहा जाता है?

A. राशि को अंग्रेजी में Sign of Zodiac कहते हैं|