अपनी औकात में रहकर सर्च करें (यहां क्लिक करके जाने) – Yadav ko kabu kaise kare?

Yadav ko kabu kaise kare: आज भी भारत देश में अधिकतर लोगों का यह सोचना है कि क्या यादवों को काबू में किया जा सकता है, यदि लंबे समय से आप इस सवाल का जवाब प्राप्त करना चाहती है कि क्या यादवों को काबू में किया जा सकता है।

इस सवाल का जवाब यह है कि यादवों को काबू में करना नामुमकिन है, लेकिन फिर भी आप यादवों को अपने काबू में करना चाहते हैं तो आपको यह लेख सही प्रकार से प्रश्न की आवश्यकता है तभी आप जान सकते हैं।


Yadav Ko Kabu Kaise kare | यादवों को कैसे काबू करें?

यादवों को किस प्रकार से काबू किया जाता है यह सवाल का जवाब अक्सर लोग गूगल पर खोजते रहते हैं, लेकिन आपको यादवों को काबू में करने से पहले यादवों का इतिहास जानना होगा तभी आप यादवों को काबू में कर पाएंगे।

अक्सर प्राचीन किताबों के अनुसार यही पता चलता है कि यादवों को काबू में करना नामुमकिन होता है क्योंकि यादव समुदाय प्राचीन काल से ही पराक्रमी और स्वतंत्रता प्रिय के लिए जाने जाते हैं।

WhatsApp Group Join Now
Telegram Group Join Now
Instagram Group Join Now
Yadav ko kabu kaise kare
Yadav ko kabu kaise kare

भारत के कई सारे राज्यों में यादवों को यदुवंशी और अहीर कहकर भी बुलाया जाता है, भारत देश में महाराज यदु के जरिए ही यादवों की शुरुआत हुई है, शुरुआती समय में इनका नाम यदुवंशी पड़ा था।

लेकिन आज के समय में दिल्ली, हरियाणा, राजस्थान और उत्तर प्रदेश में यादवों को राव साहब नाम से भी लोग जानते हैं, यादव समाज एक क्षत्रिय माना जाता है क्योंकि इन्होंने अपनी समाज के लिए बलिदान और बहुत ही संघर्ष किया है।


भारत में यादवों की कितनी आबादी है?

भारत के हर राज्य में आपको यादव समाज देखने को मिल जाएगा, क्योंकि भारत की कुल आबादी में 22% आबादी यादवों की है, यादव समाज भारत, नेपाल, श्रीलंका, पाकिस्तान, बांग्लादेश, एशिया और मेडलिस्ट में भी रहते हैं?

यादवों ने प्राचीन काल से ही अपना योगदान राजनीति, इतिहास, विज्ञान, अर्थशास्त्र, खगोल विज्ञान में दिया है, सनातन धर्म में यादवों को ओबीसी समाज की श्रेणी में रखा गया है।

भारत के अलावा भी यादवों का राजवंश नेपाल, बांग्लादेश, भूटान तक फैला हुआ था, आज भी भारत के बड़े राज्यों में जैसे कि बिहार, उत्तर प्रदेश और मध्य प्रदेश में यादवों की सरकार है।


यादव जाति का इतिहास क्या है?

भारत देश में आज भी यादव समाज के लोग राजा यदु के वंशज होने का दावा पेश करते हैं, इसीलिए बहुत सारे यादव समाज के लोग अपने नाम के पीछे यदुवंशी लगते हैं।

भारत देश में यादव समाज पारंपरिक रूप से गैर कुलीन किसान और चरवाहे का कार्य करते थे, हालांकि परंपरागत रूप से यादव समाज को मवेशी पालने से जोड़ा गया है।

यादव समाज को महाभारत काल से आज के समय में जोड़ा जाता है बताया जाता है कि महाभारत काल में यादव समाज ने अपने शौर्य का जलवा बिखेरा था, इसीलिए यादव समाज को क्षत्रिय माना जाता है।

सन 1739 ईस्ट इंडिया कंपनी यानी की अंग्रेजों के खिलाफ भी यादव समाज के लोगों ने तमिलनाडु के अलमुतुकोंन ने विद्रोह किया था, जिसके चलते वह है वीरगति को प्राप्त हो गए थे।

कुछ समय के बाद ही सन 1848 में भारत देश के राज्य हरियाणा के राव गोपाल देव अकेले ही ईस्ट इंडिया कंपनी के 28 योद्धा से लड़ाई लड़ी थी और उनको मार गिराया था।

सन 1857 में स्वतंत्रता संग्राम की लड़ाई में यादव समाज के लोगों ने बढ़ चढ़कर अपना योगदान दिया था, आज भी बहुत सारे यादव समाज के लोग राजनीति में भाग ले रहे हैं।

पेट्रोल पंप खोलने के लिए लाइसेंस कैसे ले सकते है?

यादवों से आप हमेशा सच बोल

यादव समाज भारत देश में बड़ा ही शांत और हसमुख माना जाता है, यादव समाज के लोगों को वह व्यक्ति बहुत ज्यादा पसंद आते हैं जो हर समय सच का साथ देते हैं, यादव बहुत ही कम झूठ बोलते हैं।

इसलिए आप कभी भी यादव समाज के लोगों के सामने झूठ ना बोले यदि आप यादव समाज के लोगों के सामने झूठ बोलते हैं तो वह बहुत जल्दी ही नाराज हो जाते हैं जिनको काबू में करना नामुमकिन हो जाता है।


यादवों की पसंद नापसंद जाने

यदि आपके मन में यह सवाल लंबे समय से चल रहा है कि यादव को किस प्रकार में काबू किया जाता है, तो इसका सिंपल जवाब यह है कि आपको यादवों की पसंद और ना पसंद को सही प्रकार से जाने ना होगा, तब ही आप यादवों को काबू में कर सकते हैं।


यादवों के सामने किसी की बुराई ना करें

कई बार देखा होगा आपने बहुत सारे लोग एक दूसरी जाति की बुराई करते रहते हैं लेकिन यदि आपके सामने कोई यादव समाज का व्यक्ति खड़ा है तो आप वहां पर किसी जाति विशेष के बारे में बुराई ना करें।

क्योंकि माना जाता है कि यादव लोग जाति, धर्म से उठकर भलाई के लिए जाने जाते हैं, इसीलिए वह अपने सामने किसी अन्य जाति या धर्म की बुराई भलाई नहीं सुनते हैं, इसीलिए आपको यादवों के सामने किसी की बुराई नहीं करनी है।


यादवों से धार्मिक बातें करें

कई बार देखा गया है कि यादव समाज के लोग अपने आप को भगवान श्री कृष्ण का पूर्वज मानते हैं, जब अधिकतर लोग उनके सामने धार्मिक बातें करते हैं तो यह बहुत ही खुश रहते हैं, इसीलिए आपको यादव समाज के लोगों के सामने धार्मिक बातें करनी होगी।

जब आपके द्वारा यादव समाज के लोगों से धार्मिक बातें की जाती है तो यह अपने आप काबू में आ जाते हैं, लेकिन यदि आप यादव समाज के लोगों के सामने उनके धर्म या जाति के खिलाफ बोलते हैं तो उनको बहुत जल्दी ही गुस्सा आ जाता है।

Petrol Pump में Job कैसे पाएं? 

यादवों को कभी भी ठेस न पहुंचा

यह तो हमने आपको पहले ही इस लेख में बताया है कि जब आप किसी यादव को ठेस पहुंचते हैं तो यह बहुत ही जल्दी अपना कंट्रोल खो देते हैं और गुस्सा करने लगते हैं, यहां कुछ भी करने को तैयार हो जाते हैं।

इसीलिए आपको सदैव इस बात पर ध्यान देना चाहिए कि यादवों को यदि आप अपने काबू में करने की सोच रहे हैं तो उनको कभी भी ठेस ना पहुंचाएं ताकि आप काबू में कर सकें।


यादवों को कभी भी धोखा ना दे

कई बार देखा गया है कि भारत देश में अधिकतर लोग एक दूसरे को धोखा दे देते हैं, लेकिन जब आपके सामने कोई यादव समाज का व्यक्ति है तो आपको कभी भी उसे व्यक्ति को धोखा नहीं देना चाहिए क्योंकि वह बहुत जल्दी ही गुस्सा हो जाते है।

हालांकि आपको कभी भी किसी भी व्यक्ति को धोखा नहीं देना चाहिए ताकि वह आपसे कभी भी नफरत ना करें, यदि आप यादवों को काबू में करना चाहती है तो उनको कभी धोखा ना दें।


हर त्यौहार पर यादवों को शुभकामनाएं दें

भारत देश में प्राचीन काल से ही यह माना जाता है कि यादव समाज के लोग महाभारत काल से जुड़े हुए हैं इसीलिए जब कोई व्यक्ति इनको त्यौहार पर शुभकामनाएं देता है तो यह बहुत ही खुश हो जाते हैं।


यादवों का सदैव सम्मान करें।

जब आप यह सोच रहे हैं कि यादवों को किस प्रकार से काबू में किया जा सकता है, तो आपको यादव समाज के लोगों को काबू में करने के लिए आपको सदैव उनके सम्मान करना चाहिए वह खुद में खुद आपके काबू में आ सकते हैं।


यादव समाज की उत्पत्ति कैसे हुई?

इतिहासकारों की माने तो यादव समाज की उत्पत्ति महाभारत काल में हुई थी, क्योंकि आज भी यादव समाज के लोग अपने आप को श्री कृष्ण का वंशज बताते हैं, क्योंकि सतयुग में आभीर, अहीर, ग्वाला नाम से जाना जाता था।

क्या आस-पास कोई पेट्रोल पंप है?

Conclusion | yadav ko kabu kaise kare?

यदि आप इस आर्टिकल को सही प्रकार से पढ़ते हैं तो आपको पता चल जाएगा की यादवों को कैसे काबू करें, क्योंकि अधिकतर लोगों का यही सोचा होता है कि (Yadav ko kab kaise kare) लेकिन फिर भी काबू में नहीं कर पाते हैं।

यदि आप भी इस सवाल का जवाब लंबे समय से पानी की कोशिश कर रहे हैं तो आपको इसलिए इसमें आपके सवाल का जवाब उम्मीद करती है कि आपको मिल गया होगा क्योंकि हमने आपको इस लेख में सही प्रकार से समझाया है।

2 thoughts on “अपनी औकात में रहकर सर्च करें (यहां क्लिक करके जाने) – Yadav ko kabu kaise kare?”

Leave a Comment